Tuesday, January 6, 2015

उमगा का ऐतिहासिक सूर्य मंदिर


-


 धीरज पाण्डेय
ऐतिहासिक , धार्मिक , पौराणिक द्रिस्टीकोण से अति महत्वपूर्ण उमगा का सूर्य मंदिर अपनी भव्यता , कलात्मकता एवं महता के कारण औरंगाबाद ही नहीं बल्कि बिहार के कोने कोने में इसकी प्रसिद्धि व्यापत है। दंतकथा के अनुसार देवशिल्पी भगवान विष्वकर्मा ने एक रात्रि में तीन मंदिरो का निर्माण किया था , जिसमे देव का सूर्य मंदिर , देवकुंड का मंदिर एवं उमगा का सूर्य मंदिर है। यह मंदिर पहाड़ के उचाईयो पर होने के कारण इसकी आकर्षकता एवं भव्यता बढ़ जाती है ,यह मंदिर अपने आप में इतिहास को समेटे हुई है।
इस मंदिर से जुडी खबर क्रमबद्ध जारी रहेगी -
Like · ·

1 comment: