Monday, August 8, 2011

सेहत



jk health world | health solution | hindi font health solutions
jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem Profile jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem Health Job jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem Sex Info jk health world | health solution | hindi font health solutions jk health world | health solution | hindi font health solutions jk health world | health solution | hindi font health solutions एक निर्देशिका jk health world | health solution | hindi font health solutions About Us jk health world | health solution | hindi font health solutions Contact Us
Aug 09, 2011 08:39:09 am
आंखों का लाल होना... गर्मी में लू से बचाव... डेंगू ज्वर (बुखार) हड्डी तोड़ बुखार... परिचय-... बकरी का दूध ... विवाहित जीवन में शारीरिक संबंध ... शीत ॠतु में कुछ ठीक या स्वस्थ आदमि... ...more Hi Guest!
jk health world | health solution | hindi font health solutions
Health Corner
jk health world | health solution | hindi font health solutions
jk health world | health solution | hindi font health solutions
Navigation
» Home
» Articles
» Downloads
» Sex Info
» News Categories
» Photo Gallery
» Medical Directory
» Post Medical Link
» Jobs
jk health world | health solution | hindi font health solutions
Login
Username:
Password :
Register|Forgot Password
jk health world | health solution | hindi font health solutions
jk health world | health solution | hindi font health solutions
jk health world | health solution | hindi font health solutions
Sub Category : एक्यूप्रेशर द्वारा उपचार
आंत का कैंसर :
कैंसर एक बहुत ही गंभीर रोग है जिसका पूरा व सही तरह से इलाज न कराने से रोगी की..................................
Read Full Article

अडीनोयड :
यह रोग छूत की बीमारियों, सर्दी-जुकाम तथा सांस लेने वाली नली में सूजन हो जाने से..............................
Read Full Article

अकड़न :
शरीर में अकड़न के कई कारण हो सकते हैं। पीट्रयुटरी, पीनियल ग्रंथि अथवा मस्तिष्क का................................
Read Full Article

एन्जाइना :
एन्जाइना रोग में रोगी के सीने के बाईं ओर दर्द उठता है। बाद में यह दर्द सीने से हाथों एवं................................
Read Full Article

अनिद्रा :
अनिद्रा रोग का खास कारण चिंता को माना जाता है। अगर कोई व्यक्ति अति उत्तेजित है, अवसाद.............................
Read Full Article

एंजाइना पेक्टोरिस :
एंजाइना पेक्टोरिस के रोग में रोगी ऐंठन का शिकार हो जाता है। इसमें रोगी को पूरी तरह आक्सीजन...............................
Read Full Article

मनुष्य के आंखों की बनावट :
किसी भी दूसरी वस्तु को देखने के लिए जो आंखें मनुष्य के पास होती है, उस आंख की बनावट..............................
Read Full Article

अपच :
अपच रोग के कई कारण होते हैं जैसे ज्यादा खेलना, बहुत जल्दी खाना खा लेना, अत्यधिक मसालेदार.........................
Read Full Article

एपेंडिसाइटिस :
एपेंडिसाइटिस का रोग तब होता है जब किसी व्यक्ति के एपेंडिक्स में संक्रमण या सूजन होती है। इसमें..............................
Read Full Article

ऐंठन :
ऐंठन के कई कारण होते हैं जैसे शरीर में नमक कमी से यह रोग हो सकता है। ज्यादा व्यायाम............................
Read Full Article

अवसाद :
अवसाद का रोग पीढ़ी दर पीढ़ी भी पनप सकता है। वैसे यह रोग 2 तरह की होता है- बाहरी और............................
Read Full Article

बालों के रोग :
बाल मनुष्य की सुन्दरता को बढ़ाते हैं तथा उनसे यह भी पता चल जाता है कि मनुष्य स्वस्थ है या.................................
Read Full Article

बांझपन :
रोग में स्त्री गर्भवती नही हो पाती अथवा पुरुष स्त्री को गर्भवती नही कर पाता इसे ही बांझपन.........................
Read Full Article

बवासीर :
गुदाद्वार के बाहर या मलाशय के बिल्कुल अन्दर फैली हुई रक्तवाहिकाओं से भरी छोटी-छोटी, नीले रंग.................................
Read Full Article

एनोरेक्सिया नर्वोसा :
एनोरेक्सिया नर्वोसा रोग में व्यक्ति बहुत कमजोर हो जाता है। यह रोग खासतौर पर................................
Read Full Article

बिलनी :
बिलनी रोग संक्रमण के कारण फैलता है। इसमें संक्रमित होने वाले पलकों के बालों मे छोटी...........................
Read Full Article

बिस्तर पर पेशाब कर देना :
जब बच्चे छोटे होते हैं तो वो सोते समय बिस्तर पर पेशाब कर देते हैं लेकिन जब बड़े होते हैं तो.......................
Read Full Article

बिवाई :
कम तापमान की जगह पर रहने से त्वचा बिल्कुल पीली पड़ने लगती है जो बाद में बिवाई............................
Read Full Article

ब्रोंकाइटिस :
ब्रोंकाइटिस रोग संक्रमण के कारण होता है जो फेफड़ो में जाने वाली सांस की नली में होता है। ब्रोंकाइटिस........................
Read Full Article

बुखार :
जब शरीर गर्म हो जाता है या हो रहा होता है तो यह बुखार कहलाता है। इसे पाइरेक्सिया................................
Read Full Article

चक्कर आना :
जब रोगी को हर चीज घूमती हुई नज़र आती है तो उसे चक्कर आना कहते हैं। इस रोग के..............................
Read Full Article

सेरेब्रल पलसी :
सेरेब्रल पलसी मस्तिष्क के किसी रोग हो जाने के कारण होता है तथा इस रोग में मांसपेशियों में.............................
Read Full Article

चमड़ी के रोग :
चमड़ी के रोग दूर करने के लियें पैराथाइरॉयड, पिट्यूटरी, थाइरॉयड, पिनियल, अंडकोषों..............................
Read Full Article

कोलाइटिस :
कोलाइटिस रोग में रोगी को अपने खाने वाले भोजन का खासतौर पर ख्याल रखना चाहिए। इस..................................
Read Full Article

कंजक्टिवाइटिस :
कंजंक्टिवाइटिस आमतौर पर धूल-मिट्टी, छोटे कणों या मेकअप के सामान से होता है यह...............................
Read Full Article

सिस्टाइटिस :
मलाशय के अन्दर या उसके आसपास रहने वाले बैक्टीरिया जब पेशाब की नली के द्वार पर...............................
Read Full Article

दमा :
दमा रोग एक ऐसा रोग है जिसमें रोगी का दम ही निकल जाता है। इस रोग को सांस फूलने..................................
Read Full Article

दांत दर्द :
जब किसी व्यक्ति के दांतों में कीड़ा आदि लग जाता है या किसी अन्य प्रकार का रोग.............................
Read Full Article

दांतों में मवाद :
जब दांत खोखले हो जाते हैं या उनमें कीड़े लग जाते हैं तो भोजन करने के बाद उनमें भोजन.................................
Read Full Article

धमनी की सूजन :
कई बार धमनियों की दीवार जन्म से ही कमजोर होती है और जब इन पर खून का प्रेशर या...................................
Read Full Article

धूम्रपान :
म्रपान करने से धूम्रपान करने वाले की सेहत बिगड़ने लगती है तथा उसे कई प्रकार की..................................
Read Full Article

दिल का दौरा :
जब हृदय की मांसपेशियों में खून का दौरा रुक या कम हो जाता है तो वहा के.........................................
Read Full Article

दूर दृष्टिदोष :
आंख के अगले और पिछले भाग के बीच की दूरी काफी बढ़ जाने के कारण दूर रखी वस्तु..................................
Read Full Article

डिसमेनोरिया :
गर्भाशय की सतह से निकलने वाले हारमोन्स के फलस्वरूप गर्भाशय की मांसपेशियां सख्त.............................
Read Full Article

एक्जिमा :
एक्जिमा एक प्रकार का संक्रमण का रोग होता है जिसमें त्वचा पर खुजली के साथ-साथ..............................
Read Full Article

एंडोमेट्रियोसिस :
मासिकधर्म की स्थिति में गर्भाशय की दीवार के ऊतकों से रक्तस्राव होता है। कुछ ऐसा ही...............................
Read Full Article

गले में खराश :
दिन में घूमते-फिरते या खाते-पीते कभी भी गले में खराश हो सकती है। यह कोई रोग....................................
Read Full Article

गलगंड :
यह रोग आयोडीन की कमी के कारण होता है। जब शरीर में आयोडीन की कमी हो...................................
Read Full Article

गर्दन का दर्द :
यह दर्द आमतौर पर आर्थराइटिस या सर्वाइकल स्पेंडिलाइटिस के कारण हो जाता है।....................................
Read Full Article

गैस बनना :
जब पेट में किसी कारण से वायु पैदा हो जाती है तो वह डकार या गुदाद्वार के रास्ते से...................................
Read Full Article

गैस्ट्रोएंट्रोंइटिस :
गैस्ट्रोएंट्राइटिस रोग में रोगी को इस रोग का हल्का अटैक पड़ता है जिसमें उसे जी मिचलाने.................................
Read Full Article

घबराहट :
किसी भी व्यक्ति को जब घबराहट महसूस हो रही हो तो उसे तुरंत ही अपने हाथों व पैरों के.............................
Read Full Article

घाव-जख्म :
चोट कभी भी बताकर नही लगती यह किसी भी परिस्थिति में लग सकती है। चोट छोटी से.............................
Read Full Article

घुटने का दर्द :
घुटने में दर्द होने के कारण कई कारण हो सकते हैं जैसे- ज्यादा पैदल चलना, चोट लगना..................................
Read Full Article

ग्लूकोमा :
जब आंखों के अन्दर पैदा होने वाले द्रव्यों और उनकी निकासी की प्रक्रिया के बीच एक..................................
Read Full Article

ग्रंथिल ज्वर :
इस रोग में शरीर की बहुत सी ग्रंथियां संक्रमित हो जाती है। इस रोग में अक्सर रोगी का..................................
Read Full Article

गर्दन तथा पीठ में दर्द :
किसी भी स्त्री या पुरुष की गर्दन तथा पीठ में दर्द होना एक आम बात है। वैसे गर्दन तथा पीठ................................
Read Full Article

अन्त:स्त्रावी रसोत्पादक नलिकाहीन ग्रंथियां और इन ग्रंथियों का प्रभाव :
एक वह ग्रंथि होती है जो अपने में बनने वाले रस को नलिकाओं द्वारा शरीर के विशेष भागों................................
Read Full Article

गुप्तांगों की हर्पीज :
गुप्तांगों का हर्पीज रोग एक कष्टकारक और बार-बार होने वाला संक्रमण रोग है। कहते हैं कि अगर...........................
Read Full Article

गुप्तांगों में मस्से :
गुप्तांगों में मस्से ज्यादातर संक्रमण के कारण होते हैं। यह मस्से बिना आकार वाले तथा दर्द.................................
Read Full Article
BANNERS
jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem jk health world | health solution | hindi font health solutions | health problem

jk health world | health solution | hindi font health solutions
Icon    Wiwi Title
Translate

No comments:

Post a Comment